Wednesday, June 20, 2018

CRUSH Meaning in Hindi and English - क्रश हिंदी मीनिंग(मतलव)

Crush Meaning in Hindi and English with Example : आज का हमारा टॉपिक है क्रश का हिंदी और इंग्लिश मीनिंग(मतलव). हम शेयर करेंगे इनका शोर्ट और विस्तार वर्णन दोनों तरीको से अच्छा समझ पायेंगे. तो चलिए Meaning of Crush in Hindi and English को जानते है.


Crush Meaning in Hindi and English :


मीनिंग ऑफ़ क्रश इन हिंदी - 

Noun
 - अपघर्षण.
 - आसक्ति.
 - जमघट. 
 - टक्कर.
 - दबाव.
 - पिसाई.
 - भीड़.
 - संदलन.
 - क्रश.
 - प्रेमासक्ति.

Verb
 - प्रेमासक्त होना.
 - बुरी तरह परास्त कर देना.
 - कुचलना.
 - दबाना.
 - पीसना.
 - मसलना.
 - निचोड़ना.
 - गिरा देना.
 - चूर-चूर करना.
 - अधीन करना.
 - कुचल जाना.

मीनिंग ऑफ़ क्रश इन इंग्लिश - 

Noun
1. The act of crushing.
2. Temporary love of an adolescent.
3. A dense crowd of people.
4. Leather that has had its grain pattern accentuated.

Verb
1. Break into small pieces.
2. Become injured, broken, or distorted by pressure.
3. Come out better in a competition, race, or conflict.

अब तक आप क्रश के हिंदी और इंग्लिश मीनिंग को छोटे रूप नाउन के फॉर्म में पढ़ लिए होंगे. हमने इसकेविस्तार स्वरूप को भी इस आर्टिकल के माध्यम से समझाने की कोशिश की है. क्या आप इसे पढना पसंद करेंगे ? यदि हां तो फिर दोस्तों देर क्यों करे. चलिए जल्दी से आगे बड़कर रीड करना स्टार्ट करे.

Crush Meaning in Hindi and English

What is the Meaning of Crush in Hindi and English :


इन सभी का मीनिंग डिटेल्स में जाने -

- अप घर्षण यह शब्द से तात्पर्य दो चीजो, लोगो या फिर भावनाओ का आपस में घर्षित होना होता है. चूकी क्रश के मतलावो में से एक है. इसे कुछ इस प्रकार समझ सकते है जैसे दो चीजे है और वे आपस में एक - दूसरे के ऊपर घर्षित हो रही या टकराते हुये फिसल रही है. इस मीनिंग को खासकर घर्षण के लिए जान सकते है.

- आसक्ति, इस वर्ड को हम ऐसे रूप में जानेगे जैसे आपकी शक्ति किसी और चीज या लोगो के वस में हो गयी या आप उसके आदि हो गए है और चाहकर भी वहां से पीछा नहीं छुड़ा पा रहे है. आसक्त मतलव किसी वस्तु में जकड़ जाना और उसके वसिवुत होकर अपनी लाइफ को चलाना और उससे पार होने में मुश्किल महसूस करना या उसी में खुशी तलासते रहना. आसक्त इस धरती की किसी भी वस्तु से जुड़ाव या लगाव जो बहुत लम्बा चलते वाला होता है को परिभाषित करता है.  

- टक्कर, क्रश के लिए इस शब्द का प्रयोग वास्तव में दो वस्तुओ, लोगो या भावनाओ के बीच टकराव दर्शाता है. लेकिन यह खासकर ज्यादा ताकत को भी प्रदर्शित करता है. मतलव इसमें नुकसान की गुन्जायिश 
बहुत हद तक देखी जाती है से कोई सड़क दुर्घटना इसे टक्कर शब्द के लिए एक अच्छा उदाहरण मान सकते है. ये बहुत सी जगह परिवार में लोगो के बीच, रिस्तो में होने पर दरारे भी बना देती है.

- पिसाई, इसका सीधा अर्थ चीजो का चूर - चूर कर देना. उदा. हम इलेक्ट्रिक मिक्सचर का उपयोग करते है जिसमे कुछ वस्तुओ को आपस में अच्छी मिलाने के लिए उन्हें घुमाकर पिस दिया जाता है और वे इस तरह मिलकर पिसाई कहलाता है. यह सभी जगह लागू हो सकता है.

- प्रेमाशक्ति, प्रेम प्रसंग की द्रष्टि से समझे तब हम यदि एक एक्साम्पल ले जैसे एक लड़का या लड़की किसी दूसरे लड़की या लड़के के प्रेम में पड़ जाती है और उसके प्यार में पूरी तरह जकड़ जाता है मतलव उसकी शक्ति 
प्रेम में पूरी डूबकर प्रेमाशक्ति को प्रकट करती है या कहे कि दोनों एक दूसरे के प्यार में मर मिटने को राजी हो जाते है. मतलव उनका आपस में क्रश या प्रेम के प्रति शक्ति है. 

इनके इफ़ेक्ट -

- अप घर्षण यदि चीजो में देखे तो वे घर्षित होकर पूरी तरह खतम होने के साथ उनमे खराबी भी आ सकती है इसी प्रकार रिस्तो में इसका इफ़ेक्ट भी लगातार होने पर दूरिया बड़ जायेगी और यहाँ तक की वे समाप्ति की ओर बड़ने लग सकते है फिर ऐसा ही चलता रहे तब तो उनका समाप्त होना निश्चित है. 

इस प्रकार के घर्षण समाज, परिवार में देखने को मिलते ही रहते है. ये किसी की लाइफ में भी हो सकते है, पर यदि इसका रास्ता सही होने की स्थिति में अच्छा भी होता है. एक सिक्के के दो पहलु की तरह.

- आसक्ति, मतलव यह शब्द किसी वस्तु की आदत या लत लगने के समान है जिसे चाहकर भी ना छोड़ पाना. इसके परिणाम सीधे तौर पर इस बात पर डिपेंड करते है कि ये आदत कैसी है. क्या ये हैबिट अच्छी या फिर बुरी जैसे - दारू, धुम्रपान या व्यसन में लिप्त है. 

ये आदते पूरी तरह मानव को जकड़कर आसक्त बनाकर ही छोड़ती है. ये हेविट तुरंत सुख की चरम सीमा को प्राप्त करने और उसे बार - बार दोहराने के लिए विवश कर देती है. यह परिस्थिति आसक्ति को पैदा करती है. 

इसे हम सभी तरफ से बेकार नही कह सकते है यदि मान लो अच्छी दिशा में गतिमान हो तब ये बात ही क्या क्योकि यह आपको तुरंत तो नही लेकिन कुछ समय के बाद लम्बे समय के लिए आनंदित कर देगी. इसका दोनों प्रकार से समाज, परिवार, एक - दूसरे के संबंधो में बहुत मायने रखती है और यह रिजल्ट भी इसके करने के रास्ते पर निर्भर करता है.

- टक्कर यदि इसे सड़क दुर्घटना की द्रष्टि से देखे तो इसका इफ़ेक्ट काफी दर्दनाक होता है और ये जुड़ी हर वस्तु को बदल डालते है.

- पिसाई इसका प्रभाव मानव जाती पर ना पड़कर केबल चीजो पर देखा जाता है.

- प्रेमाशक्ति किसी पर पूरी तरह फ़िदा हो जाने को व्यक्त करता है. यह मानव जाती को प्रभावित करता है. इसका इफ़ेक्ट अच्छे - बूरे दोनों ही रूपों में देखा जा सकता है और वह इनके तरीके, नियम कानून को प्रभावित करता है.   

इसका उपयोग - 

- अप घर्षण शब्द को क्रश के एक मतलव के रूप में उपयोग लाया जाता है और यह खासकर दो वस्तुओ के बीच घर्षण को दिखलाता है और कुछ मायनों में रिस्ते और मनुष्य जीवन में भी महत्व रखता है.

- आसक्ति शब्द किसी वस्तु, इंसान या कोई भी लगाव जो उसे मजबूर कर देता है ना चाहकर भी. इसका उपयोग अधिकतर इस परिस्थिति में देखने को मिला है.

- टक्कर मतलव को दो चीजो के बीच टकराव को दर्शाता है इसे कोई दुर्घटना के लिए भी यूज़ किया जाता है.

- पिसाई मात्र आपस में दो या दो से अधिक सामान के मिश्रण की ओर इशारा करता है. खासकर इसके लिए इस शब्द का यूज़ होना बताया है.

- प्रेमाशक्ति शब्द का उपयोग दो मनुष्य या तो वे स्त्री - पुरुष हो या कोई भी संबंध उनके बीच प्रेम प्रसंग के लिए लाया जाता है.

हेल्लो फ्रेंड्स आप इस पोस्ट Crush Meaning in Hindi and English की जानकारी क्रश के हिंदी इंग्लिश मीनिंग को पढ़कर बहुत कुछ जाना लिया होगा. कुछ पूछे जाने वाले सवाल Meaning of "Crush" in Hindi and English, What is the Meaning of Crush in Hindi को समझ ही गए होंगे.

No comments:

Post a Comment