Saturday, June 30, 2018

OBLIGATION Meaning in Hindi and English - ऑब्लिगेशन का हिंदी मतलव(मीनिंग)

Obligation Meaning in Hindi and English : आज की पोस्ट ऑब्लिगेशन का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) से सम्बंधित होगी. फिर आगे बड़ते है Meaning of Obligation in Hindi and English को जानने के लिए. पूरी जानकरी के लिए सभी बातो को जरुर ध्यान से पढ़े.


Obligation Meaning in Hindi and English :


मीनिंग ऑफ़ ऑब्लिगेशन इन हिंदी

Noun 
 - अनुग्रह.
 - आबन्ध.
 - आभार.
 - एहसान.
 - कर्तव्य.
 - काम.
 - कृपा.
 - दायित्व.
 - प्रतिज्ञा.
 - बंधन.
 - मेहरबानी.

मीनिंग ऑफ़ ऑब्लिगेशन इन इंग्लिश -

Noun
1. The social force that binds you to the courses of action demanded by that force.
Example
- Every right implies a responsibility; every opportunity, an obligation; every possession, a duty.

2. A legal agreement specifying a payment or action and the penalty for failure to comply.

3. A written promise to repay a debt.

दोस्तों हमने अब तक ऑब्लिगेशन का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) को केबल संक्षेप में जाना है लेकिन यदि आप इसके सभी मतलवो के विस्तार वर्णन के साथ उनके यूज़ और इफ़ेक्ट को समझकर अच्छे से जानना चाहते है तो फिर आपको इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़ना चाहिए क्योकि इससे आपको बहुत ज्यादा मदद मिलेगी और इस मीनिंग को हमेशा के लिए याद रखने में काफी हेल्प मिल सकती है.


Obligation Meaning in Hindi and English



What is the Meaning of Obligation in Hindi and English :


इनके विस्तार रूप -

- कर्तव्य, इस शब्द को हम ऐसे समझ सकते है मानो किसी ने आपके लिए बहुत कुछ किया. अब आपका फर्ज भी उनके प्रति कुछ करने का बनता है. इसका सबसे अच्छा उदाहरण माँ - बाप है जो कि हमारे लिए बहुत कुछ करते है सोचते है. 

अब हमारा फर्ज भी उनके लिए बनता है कि हम उन्हें अच्छी लाइफ के साथ वो सारी ख़ुशी दे जो हमे देना चाहिए. यही हमारा कर्तव्य बनता है यहाँ मैंने केवल एक एक्साम्प्ल को लिया लेकिन ऐसे अनगिनत कर्तव्य है. समाज, फैमिली, देश के प्रति जिन्हें हमे एक इंसान होने के नाते अवश्य पूरा करना चाहिए.

- एहसान. यह मतलव इस ओर इशारा करता है कि हम किसी के लिए कुछ कर तो रहे होते है लेकिन श्रेय खुद लेते है और मन ही मन ये मानते या सोचते कि इस पर्सन का मेरी वजह से ये सब हुआ या फिर कोई काम करबाया. साथ ही बदले में भी उसके द्वारा अपने लिए कुछ पाने की उम्मीद भी रखते है. हमारे आस - पास बहुत से उदाहरण भरे पड़े है. इस तरह कई बार काम करबाने बाला घमंड में चूर और खुद को बड़ा मानने लग जाता है. 

- मेहरबानी, इसमें व्यक्ति दया भाव के वसीवुत होकर किसी असहाय के लिए कुछ कर देता है और बदले में कोई उम्मीद या चाहत नही रखता है.

उदाहरण से समझे हम आस - पास सड़को, मंदिरों आदि जगहों पर बहुत से भिखारी दिखाई पड़ते है जो वहां से निकलने बाले लोगो से भीख मांगते है. कई लोग उन्हें कुछ पैसे दे भी देते है लेकिन पैसे देने के बाद उनसे उम्मीद रखते है इसका जवाव होगा, नहीं. यह मतलब कुछ - कुछ कर्तव्य से मिलता है लेकिन बहुत कुछ अलग भी है.

- ऋण, इसका तात्पर्य एक व्यक्ति के द्वारा दूसरे को या किसी बैंक के जरिये कुछ पैसे ब्याज पर उधार लेना. यहाँ ब्याज की दर अलग - अलग होती है यह व्यक्ति के द्वारा लिए गये ऋण के उपयोग के उद्देश्य पर डिपेंड होता है.

- कृपा, यह एक आध्यात्मिक शब्द है जिसे अधिकतर आध्यात्म से रिलेटेड कामो और चीजो में उपयोग करते देखा गया. इसमें कृपा पाना और देना दो तरह की बाते सामने आती है. कृपा पाने में आप अपने से बहुत बड़े शक्तिशाली से कुछ प्राप्त करते है और बदले में ज्यादा कुछ नही देते है. इसका उल्टा आप बहुत ज्यादा बड़े पावरफुल है और अपने से छोटे की कुछ मदद कर देना ही इसे बतलाता है.

इनके प्रभाव -

- कर्तव्य, जब व्यक्ति अपने सभी फर्जो को अच्छे से निभाता है फिर वे चाहे माँ - बाप, भाई - बहन, समाज, फैमिली या देश आदि के प्रति जो भी उसके फर्ज निभाता है. उसे सोसाइटी में सम्मान मिलता है साथ ही उसको एक आदर्श पर्सन का ख़िताब मिल जाता है. 

इस तरह के व्यक्ति कर्मठ होने के कारण अपने परिवार का नाम देश में रोशन करते है. ये लोग समाज, देश और उनके परिवार के अहम हिस्से होते है अब इंसान जस्ट इसकी विपरीत प्रवृति का हो तब तो ये उन सभी लोगो और चीज के लिए बूरे परिणाम ही सामने लायेंगे तथा देश की प्रगति की राह में रोड़े की तरह काम करेगा.

- एहसान, इसमें आदमी दूसरो को कुछ देने या करने के बाद श्रेय खुद लेना पसंद करता है. कई बार यह कार्य मन ना करके कुछ मज़बूरी बस भी करना ही पड़ता है इसके चलते वह सामने बाले व्यक्ति पर एहसान कर देता है. इसमें नफ़रत, इर्ष्या या फिर कोई भावना भी हो सकती है. 

ऐसे पर्सन दूसरो से लिए कुछ करके श्रेय लेकर खुद को तीस मारखा समझते है. चाहे बाहर लोग उन्हें हलकट समझे. इनसे उन्हें कोई फर्क भी नही पड़ता है. समाज, देश और फैमिली के लिए ये ज्यादा कुछ बेहतर नही कर पाते क्योकि इन्हें तेरे - मेरे से ही फुर्सत नही मिल पाती है. प्रभाव ज्यादा कोई खास नही पड़ता है.

- मेहरबानी, इस तरह के व्यक्ति काफी दयालु किस्म के होते है जो अपने से गरीब और जरुरत मंदों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते है इनके द्वारा दूसरो की छोटी - मोटी हेल्प होती रहती है. साथ ही इस काम के लिए ज्यादा ना सोचकर बिना स्वार्थ वस कर देते है इन्हें ये काम करते देख दूसरे लोग भी प्रेरित होते है कुछ अच्छा करने और मदद करने के लिए, चाहे फिर वो किसी भी प्रकार की हो. 

सोसाइटी में इनको दयालु मानकर अच्छा जानकर इन पर आसानी से विश्वास किया जाता है और ये वाकई विश्वास पात्र सावित भी होते है. अच्छा प्रभाव देखने को मिलता है.

- ऋण, जब व्यक्ति किसी तरह का उधार लेकर उसे समय से चूका दे तब तो सही है लेकिन यदि उसे हानि हो जाए और वो ये ऋण ना चूका पाए तो इसका व्याज दिनों दिन बहुत ज्यादा बड़ता जाता है और यदि समस्या उसकी नींद, चैन, खाना, पीना सब छीन लेता है. इसके चलते वो नशीली चीजो की तरफ बड़कर अपनी तथा परिवार के जीवन को बर्बाद के साथ देश के लिए भी यह घातक रिजल्ट ला सकता है.

- कृपा, यह शब्द आध्यात्म से जुड़ा होने के कारण अच्छे रिजल्ट बहुत प्रदान करता है इसमें दयालुता, विश्वास, प्रेम, आत्मविश्वास, निस्वार्थ आदि सभी बेहतर बातो को देखा जाता है. यह सोसाइटी, देश, फैमिली और एक - दूसरे के रिस्तो को बहुत वेहतर बना देने के लिए काफी होते है. प्रभाव बहुत शानदार होता है.

इनके उपयोग -

- कर्तव्य, इसका उपयोग हमारे द्वारा दूसरे के प्रति जो कार्य बनते है के लिए करते है इसके अंतर्गत फैमिली, देश, सोसाइटी, रिस्ते आदि आते है.
- एहसान, इस शब्द का यूज़ तब किया जाता है जब व्यक्ति दूसरो के लिए कुछ करके श्रेय लेता है जो स्वार्थ को दर्शाता है.
- मेहरबानी, इसका यूज़ किसी दयालु इंसान के द्वारा मदद वो भी बिना किसी रिटर्न के किये जाने को प्रदर्शित करता है.
- ऋण, बैंक या व्यक्ति विशेष से पैसे उधार लेने को व्यक्त कराने के लिए उपयोग में लाया जाता है.
- कृपा, आध्यात्मिक द्रष्टि से मदद करने में यूज़ करते है.

दोस्तों मुझे उम्मीद है आप Obligation Meaning in Hindi and English पोस्ट ऑब्लिगेशन का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) को पढ़कर बहुत कुछ जान चुके होंगे. यहाँ से आपको बहुत कुछ सीखने को मिला होगा. कोई सवाल या सुझाब के लिए कमेंट जरुर करे. कुछ प्रश्नों Meaning of Obligation in Hindi, What is the Meaning of "Obligation" in Hindi and English के उत्तर भी शायद हम इसके माध्यम से दे पाये होंगे. 

No comments:

Post a Comment