Wednesday, June 20, 2018

POKE Meaning in Hindi [FaceBook] - पोक हिंदी और इंग्लिश मीनिंग(मतलव)

Poke Meaning in Hindi and English in Facebook : आज इस पोस्ट में बात करेंगे पोक का हिंदी और इंग्लिश मीनिंग(मतलव). यहाँ Facebook(FB) के poke को ध्यान रखते हुये उदाहरण के तौर पर लिया है तो चलिए Meaning of Poke in Facebook in Hindi and English को जानते है.

Poke Meaning in Hindi and English in Facebook :


मीनिंग ऑफ़ पोक इन हिंदी -

Noun 
 - कोंच. 
 - सुस्त आदमी.
 - भोंक.
 - मुक्का.

Verb 
 - संभोग करना.
 - नुकीली चीज से ढकेलना या मारना.
 - उकसाना.
 - कोंचना.
 - निकालना.
 - कुरेदना.


मीनिंग ऑफ़ पोक इन इंग्लिश - 

Noun
1. (Boxing) A blow with the fist.
2. A sharp hand gesture (resembling a blow).
Example
- He made a thrusting motion with his fist.
3. A bag made of paper or plastic for holding customer's purchases.

Verb
1. Poke or thrust abruptly.
2. Make a hole by poking.
3. Hit hard with the hand, fist, or some heavy instrument.
Example
- A bible-thumping Southern Baptist.


अब आपको पोक के हिंदी और इंग्लिश मतलव को जान गए है. यह तो अभी तक शोर्ट में था. यदि आप इसका विस्तार वर्णन पढ़ने की इच्छा रखते है तब नीचे लिखी यह पोस्ट जरुर से पढ़ना चाहिए. वैसे इसके मीनिंग को अच्छे से समझने और जानने के लिए हमने सोशल मीडिया वेबसाइट facebook के poke meaning को लिया है चूकी फेसबुक में पोक एक ऑप्शन के रूप में मौजूद है.

Poke Meaning in Hindi and English with Facebook

What is the Meaning of Poke in Hindi and English :


सभी मतलवो को जाने -

- भोंक, यह कोई कुत्ते बाला भोकना नही है बल्कि जब एक नुकीली चीज को किसी जगह चुबोया जाता है तब इसे भोंकना कहते है. इस प्रकार इसे नुकीली वस्तु के तौर पर किसी पर्सन को चुभो देना. यदि इसको फेसबुक के उदाहरण से समझे तब ये ऑप्शन इसमें इसलिए उपस्थित होता है कि जब कोई व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से डायरेक्ट बात करने की हिम्मत ना करके पोक कर देता है.

जिससे सामने वाले पर्सन का ध्यान उसकी ओर आ जाए और उनके बीच बातचीत हो सके. ये सब एक्टिविटी भौतिक या शारीरिक ना होकर एक प्रकार से मानसिक तौर पर व्यवहार की शुरुआत के लिए होता है.

- मुक्का, इसे भी पोक के मतलव से जान पाते है हालाकि इसका उद्देश्य भी किसी का ध्यान अपनी ओर खीचना ही होता है. यह आभासी या फिजिकल तौर पर भी किया जाता रहा है. फेसबुक की द्रष्टि में यह आभासी ही पाया गया. यह भोंकने से अलग पर इनका मतलव एक ही होता है और वह कि किसी को अपनी ओर attracte करना.

- सुस्त आदमी, इस मतलव को पढ़ते ही समय आ रहा है इस प्रकार के इंसान बहुत सुस्त होते है याने काफी आलसी. अब यदि इनके लिए पोक की बात करे तो यह आलस की ओर इशारा करता है या कहे कि ऐसे व्यक्ति लोगो से सीधे बाते ना करके पोक का सहारा लेते है और उनका ध्यान अपनी ओर खीचकर बात स्टार्ट करना चाहते है.

पोक की स्थिति सभी पर याने पुरुष या फिर ओरत दोनों पर लागू होती है. दोनों ही इसका उपयोग बड़ी आसानी से कर पाते है यह खासकर फेसबुक पर ही यूज़ में लाया जाता है. इसमें किसी से सीधे बात ना करके उसे पोक के माध्यम से इशारो में अपनी ओर ध्यान करने के लिए किसी उद्देश्य की प्राप्ति से बहुत अपनी लाइफ में उतार रहे है.

- कोंच, यह शब्द पढ़कर आपके दिमाग में स्पोर्ट्स बाला कोच आ रहा होगा लेकिन यह आपकी गलत फ़हमी है और हम इसे दूर करते है. कोंच का तात्पर्य किसी विशेष स्थान पर दवाव डालकर उसे कुचल सा देना. लगभग यही है इसका मतलव. 

ताकि जिस भी पर्सन पर किया जाये उसे एक इशारा आपकी तरफ से मिले और वह आपको रिप्लाई करे या बात करके आप में इंटरेस्ट दिखाये. खासकर इन सभी मीनिंग का एक ही अर्थ है वो किसी का ध्यान अपनी ओर लाना बिना कोई बात-चीत किये और यह सभी के द्वारा किया जा सकता है.

इसका प्रभाव -

- भोंकना जैसा कि हमने पहले भी बताया कि यह एक नुकीली वस्तु को दर्शाता है जो आभासी या भौतिक रूप में हो सकती है जैसे हर चीज के दो पहलु होते है वैसे ही यही बात इस पर भी लागू होना लाजमी है. पोक याने भोंकने के बाद हो सकता है. सामने वाले का ध्यान आपकी तरफ आ जाए. 

अब यदि आपका उद्देश्य उसे लेकर सही है तब तो बढ़िया नही तो टारगेट गलत होने पर आपको बहुत बड़ा खामियाजा भी भुगतना पड़ सकता है क्योकि कई बार इसका गलत फायदा उठाकर किसी के साथ बूरा या उसका फायदा उठाने की सोचते है. ये सब अपने आप में ही ठीक नही है. इस स्थिति में भोंक करने या पाने के बाद सोच समझ कर आगे कदम बडाये तभी सब के लिए सही रहेगा.

अब बात कर लेते है इसके समाज, फैमिली और आपस के रिलेशन पर इनके इफ़ेक्ट की तब हम जान पायेंगे कि इनका सकारात्मक प्रभाव जितना सही उतना ही नकारात्मक काफी बूरा शावित हो सकता है. 

- मुक्के को पोक के रूप में अक्सर भोतिक रूप में इस्तेमाल करते देखा गया लेकिन यहाँ इस बात का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है कि इसका यूज़ कहा, किस व्यक्ति के साथ और किस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए किया जा रहा है. इसके लिए सही रास्ता अच्छाई और गलत चीज के लिए यह बूरा होगा जो समाज में गलत व्यवहार को बढावा देकर आपके सम्मान को बड़ा और बहुत कम कर देगा. 

इस स्थिति में चौकन्ना रहना बहुत जरुरी है. ऐसे ही यदि कोई आपका ध्यान उसकी ओर खीचता है. इसके जरिये उसी समय रूककर आपको भी इसका रिसर्च जरुर करना चाहिए एक बार अपने दिमाग में ताकि कुछ सही ना लगने पर इससे दूर पहले ही होने का मौका मिल जाए.

- सुस्त आदमी पोक के एक मीनिंग में इसे लेने का मतलव यह आलस की ओर इशारा भी करता नजर आता है. व्यक्ति अपनी बात सीधे ना रखकर इसकी मदद लेता है. प्रभाव इसका भी बूरा और अच्छा प्रकट होगा और यह इसके उद्देश्य पर निर्भर करेगा.

- कोंच शब्द भी ऊपर तीनो ऑप्शन से मिलता - जुलता है और इसका इफ़ेक्ट भी इन्ही की तरह दोनों पहलुओ में देखा जा सकता है और यह करने के उद्देश्य पर निर्भर करता है.

इसका उपयोग -

- भोंक वर्ड याने एक प्रकार से नुकीला. अधिकतर इसे सोशल मीडिया फेसबुक पर यूज़ किया गया क्योकि वहा यह सीधे तौर पर नुकीली चीज को व्यक्त करता है. इस शव्द का संबंध नुकीली वस्तु से है. जिसे किसी को चुभो कर अपनी ओर बढाया या आकर्षित या खीचा जा सके.

- मुक्के शब्द को हम भौतिक रूप में इशारा करने पर उपयोग में ले सकते है. यह मुक्का कोई पह्लबानी बाला जोरो का नही बल्कि हल्के से सामने वाले को बिना दर्द किये अचानक अपनी तरफ इशारा करना होता है.

- सुस्त आदमी के लिए इस शब्द का इस्तेमाल करने का एक ही मकसद इसमें पर्सन अपने आलस के चलते किसी से बात तो करना चाहता है पर डायरेक्ट नही. इस स्थिति में वह इसकी हेल्प लेता है. यहाँ भी यह रोचक सावित होता है. 

- कोंच शब्द को आप किसी स्पोर्ट्स के लिए उपयोग ना करे. यहाँ इसे किसी वस्तु के विशेष स्थान पर दवाव या उस जगह को कुचल सा देना ताकि बन्दा इसे समझ सके.

दोस्तों मुझे विश्वास है आपको इस पोस्ट Poke Meaning in Hindi and English in Facebook की जानकारी से पोक का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) विस्तार से जानने को मिला ही होगा. यहाँ इसके साथ ही What is meaning of "poke" in hindi और Meaning of poke in facebook in hindi को भी समझा होगा. हमे फॉलो करके अधिक शब्दों के मीनिंग के लिए सर्च बॉक्स का उपयोग करे.

No comments:

Post a Comment