Friday, July 13, 2018

CHAOS Meaning in Hindi and English - केआस का हिंदी मतलव(मीनिंग)

Chaos Meaning in Hindi and English : दोस्तों मैं बताने वाला हूँ केआस का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) का विस्तार विवरण. तो फिर Meaning of Chaos in Hindi and English को जानना शुरू करते है. इनके मतलवो को बेहतर तरीके से समझने हेतु इस पोस्ट को अंत तक पूरा जरुर पढ़े.

Chaos Meaning in Hindi and English :

मीनिंग ऑफ़ केआस इन हिंदी -
Noun 
  •  अराजकता.
  •  अव्यवस्था.
  •  अस्तव्यस्तता.
  •  उथल-पुथल.
  •  गड़बड़ी.
  •  बवाल
  •  कोलाहल.
  •  गोलमाल.

मीनिंग ऑफ़ केआस इन इंग्लिश -
Noun
1. (Physics) a dynamical system that is extremely sensitive to its initial conditions.

2. (Greek mythology) the most ancient of gods; the personification of the infinity of space preceding creation of the universe.

3. The formless and disordered state of matter before the creation of the cosmos.

यहाँ से आपने अभी तक केआस का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) के संक्षेप रूप को जान ही लिया होगा. क्या आपको इन सभी मीनिंग के विस्तार रूप को पढ़ने में कोई रूचि है ? यदि आपका जबाब हां है तो फिर जल्दी से बिना देरी किये आगे बढ़कर पढ़ना शुरू करे. 

हमारे द्वारा इनको लेकर प्रत्येक पहलु पर प्रभाव और उपयोग को काफी हद तक एक्सप्लेन करने की कोशिश की है. जिससे कि इन्हें आसानी से समझकर याद रखा जा सके. तो फ्रेंड्स इस आर्टिकल को बिना स्किप किये लगातार लास्ट तक जरुर पढ़े.

Chaos Meaning in Hindi and English


What is the Meaning of Chaos in Hindi and English :


इनके विस्तार रूप को पढ़े -

- गड़बड़ी, यह शब्द हमे सीधे तौर पर बता रहा है कि किये गये कामो, चीजो या डेकोरेशन आदि में कुछ फाल्ट है या इन्हें जिस तरह किया जाना चाहिए था उम्मीद के अनुसार उतना नही मिल पाया. ये तो थी स्पष्ट रूप से दिखाई देने बाली चीजे जो सामने से दिखाई देती है चीजो में परिवर्तन के तौर पर. 

लेकिन थोड़ा आगे चले तो आपके सामने ये सवाल आयेगा कि आखिर ये गड़बड़ी हुयी कैसे इसके पीछे कारण क्या था तथा इसे ठीक कैसे किया जाए और इसमें सुधार के कौन से, कितने साधन या तरीके हो सकते है. गड़बड़ी छोटे स्तर से लगाकर बड़े स्तर तक हो सकती है.

- गोलमाल, इस वर्ड का मीनिंग घपले से संबंध रखता है खासकर इस तरह के कार्य इंसान के द्वारा चीजो में करते देखा गया है. थोड़ा डिटेल्स में समझे तो किसी पर्सन के द्वारा वस्तुओ के आदान - प्रदान या पैसो के लेंन देन में इस प्रकार घोटाला करके फेर - बदल देना जिसका पता लगाना असंभव सा लगे और प्रतीत होता रहे कि कुछ हुआ ही नही सब ठीक चल रहा है. 

अधिकतर ऐसे केस बड़े व्यापार, उद्द्योग, कारखानों, मिलो में तथा बड़े लेवल के कॉर्पोरेट बिज़नेस में देखने को मिलता है.

- बवाल,  छोटी बात को बड़ा बनाकर आपस में लड़ाई कर बैठना. ऐसी बाते उन लोगो में जो हमारे आसपास ही घूमते नजर आते है जिनके पास करने के लिए कुछ खास नही होता है. उनका जीवन में कोई गोल नही होता तथा पुरे टाइम आवारागर्दी और बवाल खड़े करते हुए लाइफ को बिताना. 

बवाल के बहुत से लेवल होने के साथ फील्ड, जगह, लोग, पंगो का कारण आदि. इनके परिणाम भी इन्ही के अनुसार अलग - अलग स्तर के देखने को मिलेंगे. आगे हम इन पर थोड़ा डिटेल्स में चर्चा करेंगे.

- कोलाहल, इसे हम सोर, आबाज, चिल्लाहट या बहुत सारी अलग - अलग तरह की आबाजे एक ही समय पर हमारे कानो तक पहुचना. उदहारण के लिए किसी भीड़ वाला इलाका मानो ज्यादा प्रचलित रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, कोई मार्केट, ट्रैफिक सिग्नल या किसी प्रकार का सम्मलेन या मीटिंग जहाँ बहुत अधिक मात्रा में लोग एक ही जगह पर एकत्रित होते है. 

कोलाहल के बहुत से स्तर होते है याने यह किन तरीको से हो रहा है जैसे डीजे, नेताओ की रैली, शादी की पार्टिया, लडाईया एक से ज्यादा लोगो के बीच आदि हम आये दिन देखते रहते है.

इनका इफ़ेक्ट को जाने -

- गड़बड़ी, कुछ वस्तुओ या कामो में बदलाब या गड़बड़ी प्राकृतिक रूप से होती है हालाकि इनके लिए जिम्मेदार किसे ठहराया जाए यह समझ नही आता. बदलाव को प्राकृतिक लेवल पर देखे तो यह प्रकृति का नियम ही है इसे टाला नही जा सकता. 

लेकिन जब इसे मनुष्य के स्तर से आँका जाए तब प्रतिदिन बहुत ही गलतिया सामने  आती है जो की कुछ जान बुझकर या अनजाने में होता है, चूकी गड़बड़ी तो बही रहेगी और इससे परिणाम भी रहेगा अर्थात इसका रिजल्ट अच्छा - बुरा सब फेस करना ही पड़ेगा. 

बात आती है इनके इफ़ेक्ट कि तो यह सीधे तौर पर इनके स्तर पर डिपेंड करता है कि आखिर ये गड़बड़ी कितनी छोटी या बड़ी है तथा इसी से इनका रिजल्ट भी प्राप्त होता है जो व्यक्ति इसमें लिप्त पाया जाता है उसे जेल की सजा तक करायी जा सकती है. यदि उस काम से सम्बंधित मालिक चाहे तो.

- गोलमाल, चीजो या वस्तुओ को चुरा लेना या गायव करा देना जिसका किसी को कुछ पता भी ना चले और सभी कार्य ठीक लगे लेकिन बुरी बात इसमें यह है कि जब यह हेरा फेरी हद से ज्यादा हो जाए या किसी को पता चल जाए तब इस स्थिति में परिणाम घातक होने के साथ करियर भी पूरा ख़तम हो सकता है.

प्रभाव को देखे तो जो व्यक्ति इस प्रकार की चीजो को अंजाम देता रहता है वह सीधे ही अपने भविष्य को अँधेरे में धकेल रहा होता है उसका परिवार में मान - सम्मान ख़तम होने के अलावा समाज और देश के हित के कोई कार्य नही कर पाने के कारण उसका भहिष्कार कर दिया जायेगा.

- बवाल, छोटी बातो को बड़ा करके पूरी लाइफ अपनी उर्जा को गलत दिशा में ले जाकर इस तरह के लोगो का ध्यान खुद और परिवार से हटकर फालतू की बिना मतलव बाली बातो में लगाए रखकर अपना जीवन ऐसे ही बर्बाद कर बैठते है उन्हें ये सब समझ आता है तब तक देर हो चूकी होती है. देश की प्रगति के रास्ते में रोड़ा बनते है.

शब्दों का उपयोग -

- गड़बड़ी, वस्तुओ या कार्यो को उनके सही तरीके से नही होने को दर्शाने हेतु शब्द का यूज़ करते है.

- गोलमाल, चीजो या वस्तुओ में हेराफेरी करने के साथ उन्हें गायब करना बिना किसी को पता लगाये बहां शब्द का उपयोग लेते है.

- वबाल, छोटी बातो को लेकर लड़ाई, दंगे को बड़ावा देने हेतु वर्ड को यूज़ में लाया जाता है.

- कोलाहल, शोरगुल आवाज से भरी चीजो, स्थानों को व्यक्त करने हेतु इसका उपयोग करते है.

मुझे आशा है, दोस्तों आपने इस आर्टिकल "Chaos Meaning in Hindi" and English को पढ़कर केआस का हिंदी और इंग्लिश मतलव(मीनिंग) इससे बहुत कुछ लर्न learn करके अप्लाई करने के साथ study में ग्रोथ भी मिली होगी. हमे अपने अनुभव कमेंट में लिखकर जरुर बताये तथा सुझाबो को शेयर करना ना भूले. कुछ प्रश्नों What is the Meaning of Chaos in Hindi and English, Meaning of "Chaos" in Hindi जो हमसे बहुत बार पूछे गये. इन्हें भी बताने की कोशिश हमने की है.

No comments:

Post a Comment